राहुल ने वायनाड सीट छोड़ी, प्रियंका वहां से लड़ेंगी

Rahul will remain MP from Rae Bareli, Priyanka will contest from Wayanad seat

Newspoint24/newsdesk/एजेंसी इनपुट के साथ
 

 

 नई दिल्ली। राहुल गांधी केरल की वायनाड सीट से इस्तीफा देंगे और रायबरेली से सांसद बने रहेंगे। वायनाड से प्रियंका गांधी उपचुनाव लड़ेंगी। सोमवार को कांग्रेस की 2 घंटे की बैठक के बाद राहुल और खड़गे ने इसका ऐलान किया।

राहुल ने कहा- वायनाड और रायबरेली से मेरा भावनात्मक रिश्ता है। मैं पिछले 5 साल से वायनाड से सांसद था। मैं लोगों को उनके प्यार और समर्थन के लिए धन्यवाद देता हूं। प्रियंका गांधी वाड्रा वायनाड से चुनाव लड़ेंगी, लेकिन मैं समय-समय पर वायनाड का दौरा भी करूंगा। मेरा रायबरेली से पुराना रिश्ता है, मुझे खुशी है कि मुझे फिर से उनका प्रतिनिधित्व करने का मौका मिलेगा, लेकिन यह एक कठिन निर्णय था।

 

 

वायनाड को राहुल की कमी महसूस नहीं होने दूंगी- प्रियंका
राहुल के ऐलान पर प्रियंका ने कहा, 'मुझे वायनाड का प्रतिनिधित्व करने में बहुत खुशी होगी। मैं उन्हें उनकी (राहुल गांधी की) अनुपस्थिति महसूस नहीं होने दूंगी। मैं कड़ी मेहनत करूंगी। सभी को खुश करने और एक अच्छा प्रतिनिधि बनने की पूरी कोशिश करूंगी। मेरा रायबरेली और अमेठी से बहुत पुराना रिश्ता है, इसे तोड़ा नहीं जा सकता। मैं रायबरेली में भी अपने भाई की मदद करूंगी। हम दोनों रायबरेली और वायनाड में मौजूद रहेंगे।'

कांग्रेस नेताओं के घर दो घंटे चली मीटिंग के बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस हुई, इसमें ही राहुल के वायनाड छोड़ने का ऐलान हुआ।

( कांग्रेस नेताओं के घर दो घंटे चली मीटिंग के बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस हुई, इसमें ही राहुल के वायनाड छोड़ने का ऐलान हुआ।)

खड़गे बोले- प्रियंका को लड़ाने का फैसला कांग्रेस पार्टी का
मल्लिकार्जुन खड़गे का कहना है, 'राहुल दो लोकसभा सीटों से जीते हैं, लेकिन कानून के मुताबिक उन्हें एक सीट खाली करनी होगी। राहुल रायबरेली सीट अपने पास रखेंगे और वायनाड लोकसभा सीट खाली करेंगे। खड़गे ने कहा हमने फैसला किया है कि प्रियंका वायनाड लोकसभा सीट से चुनाव लड़ेंगी।'

कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे के घर हुई कांग्रेस नेताओं की मीटिंग में सोनिया और प्रियंका भी मौजूद थीं।

(कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे के घर हुई कांग्रेस नेताओं की मीटिंग में सोनिया और प्रियंका भी मौजूद थीं।)

 

 

 

Share this story