राहुल गांधी लोकसभा में नेता विपक्ष होंगे :  I.N.D.I.A गठबंधन की बैठक में लिया गया फैसला

राहुल गांधी लोकसभा में नेता विपक्ष होंगे

Newspoint24/newsdesk/एजेंसी इनपुट के साथ

 

नई दिल्ली। राहुल गांधी लोकसभा में नेता विपक्ष होंगे। I.N.D.I.A की बैठक के बाद रात 9:30 बजे इसका ऐलान किया गया। कांग्रेस नेता केसी वेणुगोपाल ने कहा कि राहुल का नाम प्रोटेम स्पीकर को भेज दिया गया है।

उधर, संसद सत्र के दूसरे दिन भी सांसदों को शपथ दिलाई गई। अब तक 535 (कुल 542) सदस्यों ने लोकसभा की सदस्यता ली। 7 सांसद शपथ नहीं ले सके। इनमें TMC के शत्रुघ्न सिन्हा, दीपक अधिकारी, शेख नुरुल इस्लाम, सपा के अफजल अंसारी, कांग्रेस के सांसद शशि थरूर, निर्दलीय अमृतपाल सिंह और शेख अब्दुल राशिद उर्फ ​​इंजीनियर राशिद शामिल हैं। अमृतपाल और राशिद फिलहाल जेल में हैं। राहुल गांधी दो जगहों से चुनाव लड़े थे। उन्होंने वायनाड से इस्तीफा दे दिया है।

स्पीकर का चुनाव कल, सुबह 11 बजे वोटिंग
लोकसभा स्पीकर का चुनाव कल होगा। वोटिंग सुबह 11 बजे से होगी। नाराज विपक्ष ने NDA के स्पीकर कैंडिडेट ओम बिरला के खिलाफ के. सुरेश काे उतार दिया। विपक्ष का आरोप है कि कांग्रेस ने डिप्टी स्पीकर पद की मांग की, इस पर भाजपा ने जवाब नहीं दिया। उधर, भाजपा ने कहा कि कांग्रेस डिप्टी स्पीकर के पद पर अभी से सहमति चाह रही थी। भाजपा-कांग्रेस ने अपने सभी सांसदों के लिए व्हिप भी जारी कर दिया।

 

राहुल बोले- डिप्टी स्पीकर का पद दें, हम स्पीकर का समर्थन करेंगे
संसद सत्र का दूसरा दिन शुरू होने से पहले ही स्पीकर को लेकर खबरें सामने आने लगीं। राजनाथ सिंह ने कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे को फोन किया और NDA कैंडिडेट के लिए समर्थन मांगा। खड़गे ने कहा- डिप्टी स्पीकर का पद दीजिए, समर्थन देंगे।

राहुल संसद पहुंचे और मीडिया से कहा- राजनाथ जी ने खड़गे जी को फोन किया था। हमने अपनी मांग रखी है। राजनाथ जी ने फोन करने को कहा था, लेकिन अब तक जवाब नहीं आया। जब राजनाथ सिंह से इस पर सवाल किया गया तो उन्होंने कहा- खड़गे जी सीनियर लीडर हैं, मैं उनका सम्मान करता हूं।

क्या होता है नेता प्रतिपक्ष का पद?
गौरतलब है कि नेता प्रतिपक्ष का कद कैबिनेट रैंक का होता है। नेता विपक्ष सीबीआई निदेशक सहित कई अहम पदों के लिए बनी सिलेक्ट कमिटी का मेंबर होता है। वहीं वह संसद की प्रतिष्ठित पीएसी लोकलेखा समिति का अध्यक्ष होता है। दरअसल, पीएम मोदी लोकसभा में नेता सदन हैं। कांग्रेस का मानना है कि राहुल गांधी के नेता विपक्ष होने के बाद अगले पांच साल वह पीएम के सामने स्वाभाविक विकल्प के रूप में उभरेंगे।

 

Share this story