आज का पंचांग 30 जनवरी 2023 सोमवार : माघ शुक्ल पक्ष, नवमी ,  सर्वार्थ सिद्धि योग, रवि योग 

panchang

Newspoint24/ज्योतिषाचार्य प. बेचन त्रिपाठी दुर्गा मंदिर , दुर्गा कुंड ,वाराणसी  

Panchang


आज का पंचांग 30 जनवरी 2023 सोमवार  


30 जनवरी का पंचांग (Aaj Ka Panchang 30 Januray 2023)
30 जनवरी 2023, दिन सोमवार को माघ मास के शुक्ल पक्ष की नवमी तिथि सुबह 10:11 तक रहेगी। इसके बाद दशमी तिथि आरंभ हो जाएगी। माघ मास की गुप्त नवरात्रि का ये नौवां और अंतिम दिन रहेगा। इस दिन देवी सिद्धिदात्री की पूजा की जाएगी। सोमवार को कृत्तिका नक्षत्र पूरे दिन रहेगी। सोमवार को कृत्तिका नक्षत्र होने से सुस्थिर नाम का शुभ योग इस दिन बन रहा है। इसके शुक्ल और ब्रह्म नाम के 2 अन्य योग भी इस दिन रहेंगे। राहुकाल सुबह 8:33 से 9:55 तक रहेगा।

 

ग्रहों की स्थिति कुछ इस प्रकार रहेगी…
सोमवार को चंद्रमा वृष राशि में, गुरु मीन राशि में, सूर्य मकर राशि में, बुध धनु राशि में, मंगल वृष राशि में और केतु तुला राशि में, राहु मेष राशि में, शुक्र और शनि कुंभ राशि में रहेंगे। सोमवार को पूर्व दिशा में यात्रा करने से बचना चाहिए। यदि मजबूरी में यात्रा करनी पड़े तो शीशे में अपना चेहरा देखकर या कोई भी पुष्प खा कर घर से निकलना चाहिए।


30 जनवरी के पंचांग से जुड़ी अन्य खास बातें
विक्रम संवत- 2079
मास पूर्णिमांत- माघ
पक्ष- शुक्ल
दिन- सोमवार
ऋतु- शिशिर
नक्षत्र- कृत्तिका
करण- कौलव और तैतिल
सूर्योदय - 06:42 ए एम
सूर्यास्त - 05:41 पी एम
चन्द्रोदय - 12:24 पी एम
चन्द्रास्त - 02:22 ए एम, जनवरी 31
तिथि    नवमी - 10:11 ए एम तक उपरांत दशमी
नक्षत्र    कृत्तिका - 10:15 पी एम तक उपरांत रोहिणी
योग    शुक्ल - 10:49 ए एम तक उपरांत ब्रह्म
करण    कौलव - 10:11 ए एम तक उपरांत तैतिल - 10:58 पी एम तक
चन्द्र राशि    वृषभ
सूर्य राशि    मकर
अभिजीत मुहूर्त- दोपहर 12:17 से 01:01
सर्वार्थ सिद्धि योग    10:15 पी एम से 06:42 ए एम, जनवरी 31
रवि योग    पूरे दिन

 

30 जनवरी का अशुभ समय (इस दौरान कोई भी शुभ काम न करें)
राहुकाल सुबह 8:33 से 9:55 तक
यम गण्ड - 11:18 ए एम – 12:40 पी एम
कुलिक - 2:02 पी एम – 3:24 पी एम
दुर्मुहूर्त - 01:01 पी एम – 01:45 पी एम और 03:13 पी एम – 03:57 पी एम
वर्ज्यम् - 03:51 पी एम – 05:37 पी एम

 

निवास और शूल
होमाहुति    शुक्र - 10:15 पी एम तक उपरांत शनि
दिशा शूल    पूर्व
नक्षत्र शूल    पश्चिम - 10:15 पी एम से पूर्ण रात्रि तक 
अग्निवास    पृथ्वी - 10:11 ए एम तक उपरांत आकाश
चन्द्र वास    दक्षिण
राहु वास    उत्तर-पश्चिम
शिववास    गौरी के साथ - 10:11 ए एम तक उपरांत सभा में 

Share this story